blogging or blog kya hai ise kaise kare

Blogging or Blog kya hai : तो दोस्तों आज के इस ब्लॉग में आप सभी का बहुत-बहुत स्वागत है मैं आपको आज  blogging kaise kare के बारे में बताने वाला हूं निश्चित ही आपका Interest ब्लॉगिंग में है और आप भी blogger बनना चाहते  होंगे तभी आप इस पोस्ट तक पहुंचे हो.

तो चलिए दोस्तों बात कर लेते हैं कि आखिर blogging क्या है और कैसे करे इसके बारे में पूरी तरह से  जानने के लिए हमारे  इस पोस्ट को अंत तक पढ़े .

हम लोग जब भी कोई काम  अपना तन – मन लगाकर कोई भी काम Professionally तरीके से करते हैं तो इसका मतलब कोई भी  फील्ड में चाहे वह ब्लॉगिंग क्यों ना हो  सक्सेस की ओर अग्रसर हो रहे हैं और उससे अच्छी कमाई करना चाहते हैं Professionally लेवल पर blogging की बात करने से पहले आपको मै ब्लॉगिंग के बारे  मैं  बता देना चाहता हूं  ताकि आपको कुछ आईडिया हो जाए .

Blog एक प्रकार का  माध्यम या वेबसाइट होता है  जहां पर लोग अपने द्वारा  Collect किए हुए नॉलेज को  दूसरों के साथ शेयर करते हैं  और कुछ पैसे earn करते हैं.

हर रोज लाखों – करोड़ों लोग कुछ नॉलेज पाने के लिए या फिर अपने प्रॉब्लम को सॉल्व करने के लिए

Advertisement
Google और दूसरे search engine में कई तरह की चीजें सर्च करते हैं लेकिन  इसका मतलब यह नहीं  है कि सारी डाटा या इंफॉर्मेशन गूगल की  होती है  जिसे वह सर्च करने पर दिखाता है . वह इंफॉर्मेशन लोगों के द्वारा ही website पर लिखी गई होती है जो गूगल में इंडेक्स होती है  जिसे google लोगों के सामने दिखाता है. 

जहां से लोग अपनी  पसंद से  पोस्ट पर विजिट करते हैं  और उनके प्रॉब्लम का  उन्हें सलूशन भी मिल जाता है  और ऐसे में जो ब्लॉगर है उसको भी earning करने में हेल्प हो जाती है.  एक तरह से  माना जाए तो दोनों एक दूसरे की मदद ही करते हैं.

What is blog in hindi | blog kya hota hai ? 

Blog kya hota hai : ब्लॉग एक तरह का वेबसाइट होता है जहां पर लोगों का समूह या पर्सनल एक व्यक्ति भी काम कर सकता है. लोगों के द्वारा Website या Blog में समय – समय पर नए  नए – नए पोस्ट लिखकर उसे अपडेट किया जाता है. अच्छे ब्लॉगर हमेशा अपने पोस्ट को अपने सरल शब्दों में लिखने का प्रयास करते हैं ताकि सामने वाले व्यक्ति को उनकी बातें आसानी से समझ में आ सके. 

Advertisement

ब्लॉगर का अपने वेबसाइट पर आर्टिकल लिखने का उद्देश्य सामने वाले को आकर्षित करना होता है ताकि उसकी वेबसाइट पर ज्यादा से ज्यादा लोग विजिट करके उनकी आर्टिकल को पढ़ें और इंफॉर्मेशन प्राप्त करें जिससे उनका वेबसाइट भी ग्रो हो सके और अच्छी erning भी हो.

What is blogging in hindi | Blogging kya hota hai ?

Blogging kya hota hai : ब्लॉग एक तरह का Web log  या website होता है जिसे हम शॉर्टकट में  ब्लॉग कहते हैं असल में ब्लॉग एक प्रकार का Web Page होता है जिसमे तरह-तरह के आर्टिकल  या कन्टेन्ट उपस्थित होते हैं और इन वेब पेज में  पोस्ट या कंटेंट या आर्टिकल  लिखना ही ब्लॉगिंग कहलाता है.

ब्लॉगिंग करने के लिए कुछ टेक्निकल नॉलेज का भी होना जरूरी है चाहे आपका ब्लॉग कोई भी टॉपिक पर हो . जिस किसी की भी व्यक्ति को ब्लॉगिंग आता है मतलब उसके अंदर Skill है हर वह अपने ब्लॉग को कंट्रोल करके रख सकता है क्योंकि से समय-समय पर अपडेट करते रहना पड़ता है.

Blog kitane prakar ke hote hai ? – Types of blog

चलिए जान लेते हैं कि आखिर Blog kitane prakar ke hote hai , तो ब्लॉग कई प्रकार के होते हैं ” ब्लॉग के प्रकार उसकी सामग्री और उसे प्रस्तुत करने के तरीके पर निर्भर करता है “. यहां पर मैं बताने वाला हूं  ब्लॉग के मुख्य  8 प्रकार के बारे मे बताने वाला हूं. तो  इससे पहले हम जान लेते हैं कि आखिर कौन-कौन से प्रकार के ब्लॉग आखिर बनते हैं तो ब्लॉक में मुख्यतः तीन चीजें प्रमुख होती है .

  • Types अर्थात कौन-कौन से प्रकार के ब्लॉग होते हैं. 
  • Cetegory  अर्थात  कौन कौन से कैटेगरी में ब्लॉग काम करता है. 
  • Niche  यानी कि  किसी व्यक्ति के पास ज्यादा नॉलेज नहीं है  या फिर उसके पास राइटर्स नहीं है  तो वह अपना कोई एक Niche  सेलेक्ट कर लेता है और उसी टॉपिक पर लिखता है.

Blog ke 8 prakar 

1. Personal Blog : पर्सनल ब्लॉग एक ऐसा ब्लॉग होता है जिसमें व्यक्ति स्वयं अपने बारे में लिखता है अर्थात उसके पास एक प्रकार का डायरी होता है जैसे कि उन्होंने दिन भर में क्या किया उसके बारे में लिखते हैं या फिर अपने किसी भी चीज के experience पर.

2. Collaborative Blog or Group Blog : इस तरह के ब्लॉग में ब्लॉगरों का एक समूह होता है जहां उनके द्वारा एक वेबसाइट पर लिखकर पोस्ट किया जाता है.

3. Micro Blog Blogging : इसमें किसी भी एक नीच को सेलेक्ट किया जाता है और उसके बारे में पूरी डिटेल जानकारी दी जाती है.

4. Corporate Blog : किसी भी कंपनी के बारे में जानकारी इकट्ठा करके लिखना Corporate Blogging कहलाता है जैसे कि कोई गूगल कंपनी के बारे में जानकारी दे रहा है तो कोई एप्पल कंपनी के बारे में जानकारी दे रहा है.

5. Aggregated Blog : इसके अंदर किसी भी एक चीज के बारे में रिसर्च करके लिखा जाता है.

6. Genre Blog : यह थोड़ा सा इंटरटेनमेंट  ब्लॉग होता है और यह किसी एक विषय पर होता है .जैसे कि गाने के बारे में हो गया.

7.  Vlog : यह प्रकार का video blog होता है आपने अधिकतर इस प्रकार के  ब्लॉग को यूट्यूब पर देखा होगा जहां पर वीडियो अपलोड की जाती है .

8. Niche blog : इसमें किसी एक स्पेसिफिक चीज के बारे में बात की जाती है और अभी के दौर पर यह सबसे ज्यादा प्रचलित है. यह बहुत ही ज्यादा आज के टाइम में चल रहा है और बहुत ही पॉपुलर है.

तो अब आपने blog ke prakar के बारे में तो  जान लिया होगा लेकिन Generally हम ब्लॉगिंग को दो भाग में डिवाइड कर सकते हैं professional और personal .

Professional blogging kya hai ? – What is professional blogging

Professional blogging kya hai : एक ऐसा ब्लॉगिंग होता है  जिसका मकसद होता है अपने बिजनेस की रेपुटेशन या वैल्यू को बढ़ाना और उसके बाद रेपुटेशन के बनने के बाद और उसके बाद अलग-अलग तरीकों से हो सकता है की लीड जनरेट हो .

इसमें कंपनी के रेपुटेशन को देखते हुए एक सिद्धांत पर ब्लॉगिंग  करते हैं और  अधिकतर बड़ी-बड़ी कंपनियों द्वारा ही प्रोफेशनल लॉगिन की जाती है क्योंकि इसमें रेवेन्यू को नहीं बल्कि कंपनी के रेपुटेशन को देखा जाता है.

Personal blogging kya hai ? – What is personal blogging 

Personal blogging kya hai : एक ऐसा ब्लॉगिंग होता है  जिसका माइंड सेट प्रोफेशनल ब्लॉगिंग से बिल्कुल ही अलग होता है personal blogging में blog से ज्यादातर  पैसा कमाने में फोकस रहता है कि किस तरीके से हम अपना ज्यादा से ज्यादा डॉलर पैसे कमा पाए .

Professional Blogger बनने के लिए क्या Quality होना चाहिए ?

Professional-Blogger-बनने-के-लिए-क्या-Quality-होना-चाहिए

यहां पर मैं आपको कुछ ऐसी बातें बताने जा रहा हूं जो आपको ब्लॉगर से प्रोफेशनल ब्लॉगर बनने में सहायक होगा जिसे आप फॉलो कर सकते है .

Unique आर्टिकल लिखें 

ब्लॉगिंग करने के लिए आपके कंटेंट की quality, unique होना बहुत ही जरूरी है यदि आपके आर्टिकल में किसी भी प्रकार की कमी आपके विजिटर्स को दिखती है तो वही आपके लिए माइनस पॉइंट बनता है  इसलिए हमेशा अपने विजिटर्स का ध्यान रखते हुए यूनिक और अट्रैक्टिव आर्टिकल लिखें.

 जिससे आपके विजिटर्स को भी पढ़ने में रुचि हो और आपके वेबसाइट में ज्यादा समय तक रुके रहे. इससे आपका वेबसाइट गूगल के नजर में आता है और उसकी रैंकिंग increase होती है.

धैर्य (patience) रखें और कॉन्टेंट पर फोकस करें

सबसे पहली बात तो पैसे कमाने के नाम से ब्लॉगिंग ना करें क्योंकि यह पैसे कमाने का शॉर्टकट तरीका नहीं है इसमें आपको धैर्य (patience) रखने की जरूरत होती है और लगातार अपने कंटेंट पर फोकस रखना होता है . जितना अपने कंटेंट पर फोकस रखेंगे उतनी ही जल्दी ब्लॉगिंग में सक्सेस हो पाओगे.

दूसरे के ब्लॉग से नॉलेज Gain करें

जब आप दूसरे के ब्लॉग या वेबसाइट पर जाकर उनके article को पढ़ेंगे तो आपको तरह-तरह के नॉलेज  मिलेगा. जिसे gain करके आप अपने हिसाब से यूनीक कंटेंट लिख सकते हैं. 

प्रोफेशनल ब्लॉगर होने के नाते आपको अलग-अलग प्रकार के नॉलेज होना जरूरी होता है जिसे आप दूसरे के blog में जाकर प्राप्त कर सकते हैं.

एक ही Niche पर काम करें

प्रोफेशनल ब्लॉगर बनने के लिए आपको एक ही niche पर काम करना जरूरी होता है  आपको हमेशा एक ही अपने द्वारा चुने हुए नीच पर काम करना चाहिए यदि आपकी फ्रेंड फ्रेंड नीचे पर वर्क करते हैं तो लोगों का आपके ऊपर से भरोसा उठ जाएगा और आपके ब्लॉक में हुए विजिट करना बंद कर देंगे.

जैसे कि आप टेक्नोलॉजी नीच पर काम कर रहे हैं  तो उसके सिवा और  किसी दूसरे नीच पर काम ना करें.

दूसरे के ब्लॉग से Copy ना करें

यह बात आप तो जानते ही होंगे कि आपने जिस niche पर ब्लॉग बनाया है उस नीच पर भी बहुत लोग काम कर रहे होंगे.आप भी यदि उसी के समान same कंटेंट लिखते हैं तो google में rank तो होने की बात तो दूर गूगल में index तक नहीं होगा. क्योंकि दूसरों का कंटेंट छुड़ाना कॉपीराइट एक्ट के तहत आता है अब इसकी कंप्लेन भी की जा सकती है.

समय पर अपने ब्लॉग को Update करते रहे

आपको समय-समय पर अपने ब्लॉग में unique content डालते रहना चाहिए. कई लोग ऐसे भी होते हैं जो एक दिन पोस्ट डालने के बाद 1 हफ्ते के बाद दूसरा पोस्ट डालते हैं ऐसे में आपकी consistancy नहीं बनी रहती और गूगल भी समझ जाता है कि यह lazy work कर रहा है और आपकी आर्टिकल कभी रैंक नहीं होता. 

पोस्ट की सही तरीके से SEO करना

आप ब्लॉगर है तो आपको पता ही होगा की पोस्ट को rank कराने के लिए SEO ( search engine optimization ) बहुत बड़ा फैक्टर माना जाता है ऐसे में आपको सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन की जानकारी होना जरूरी होता है ताकि आप अपने पोस्ट में Keyword की प्लेसमेंट अच्छी तरह से कर सकें और अपने पोस्ट को अट्रैक्टिव बना सके. 

Blog या Website कहां बनाएं ?

आप blog या website बनाने के लिए प्रमुखता दो Plateform का यूज कर सकते हैं  –

1. ब्लॉगर ( Blogger )

2.  वर्डप्रेस (WordPress )

ब्लॉगर (blogger) पूरी तरह से ब्लॉगिंग के लिए फ्री प्लेटफार्म है जहां पर आपको केवल एक डोमेन खरीदना होता है और उसके बाद आप ब्लॉगर पर अपनी वेबसाइट को डिजाइन करके ब्लॉगिंग स्टार्ट कर सकते हैं. 

और दूसरा वर्डप्रेस जिसमें  आपको थोड़े पैसे लगाने पड़ते हैं  इसमें आपको Domain और Hosting दोनों खरीदनी पड़ती है और इसमें आपको कई तरह के plugins मिल जाते हैं जो कि ब्लॉगर में नहीं मिलता.

लेकिन आप beginner हो अर्थात आपने अभी-अभी ब्लॉगिंग चालू की है तो आपको निश्चित ही ब्लॉगर के साथ जाना चाहिए . और धीरे-धीरे अपने skill को improve करना चाहिए जिसके बाद आप  वर्डप्रेस  पर move  कर सकते हो.

Blogging करके पैसा कैसे कमाए ?

Blogging-करके-पैसा-कैसे-कमाए

blogging करके बहुत पैसा कमाया जा सकता है यह तो सही बात है पर इसके लिए आपको प्रोफेशनल तरीके से काम करना होता है आज  हम ऐसा तरीका बताने जा रहे हैं जिसका यूज़ करके कई ब्लॉगर बहुत पैसे earn कर रहे हैं.

वेबसाइट बनाने के बाद कुछ यूनिक आर्टिकल लिखकर आप Google Adsense की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर अपना अकाउंट बना सकते हैं और वहां अपने वेबसाइट को गूगल  ऐडसेंस के लिए अप्लाई कर सकते हैं .

अप्लाई करने के बाद आपका वेबसाइट गूगल एडसेंस के रिव्यु में जाएगी फिर अगर आपका  कंटेंट unique रहा तो आपको ऐडसेंस का apporval जरूर मिलता है जहां से आप अपने वेबसाइट पर ट्रैफिक लाकर अच्छी खासी रेवेन्यू जनरेट कर सकते हैं .

ई बुक (E – Book)

यदि आपके द्वारा बनाई गई कोई e – book है  तो आप अपने वेबसाइट पर इसे अटैच करके सेल कर सकते हैं इससे भी अच्छी खासी रेवेन्यू जेनरेट की जा सकती है क्योंकि कई लोगों को इसकी जरूरत होती है 

कोर्स (Course) 

यदि आप किसी कोर्स ( course ) को प्रमोट कर रहे हैं या वह कोर्स आपके द्वारा बनाई गई है  जिसे आप अपने ब्लॉग पोस्ट के द्वारा सेल कर सकते हैं . क्योंकि कई लोग डिफरेंट – डिफरेंट तरीके के कोर्स खरीदते रहते हैं.

Affilate Marketing

यदि आप किसी पर्टिकुलर चीज के बारे में लिख रहे हैं या फिर उसका रिव्यू दे रहे हैं  जैसे कि आप टीवी के बारे में लिख रहे हैं  तो वहां पर आप अपना affilate link प्रोवाइड कर सकते हैं .और यदि कोई है  उस लिंग के द्वारा  कोई भी चीज  खरीदता है तो उसके बदले आपको कमीशन मिलती है.

वेबसाइट paid मेंबरशिप

कई blog या website जहां पर आपको  मेंबरशिप के लिए कुछ पैसे देने होते हैं  आप भी चाहे तो आपने वेबसाइट पर paid मेंबरशिप के जरिए पैसे कमा सकते हैं .

Final Word

उम्मीद करते है दोस्तों आपको यह आर्टिकल (Blogging or Blog kya hai और ब्लॉगिंग कैसे करे) के बारे में पूरी जानकारी मिल गयी होगी. अगर आपको कुछ daout है तो कमेंट बॉक्स में हमे पूछ सकते और आपको यह आर्टिकल पसंद आया या आपको इससे कुछ सिखाने को मिला होगा तो हमारे blog को सब्सक्राइब जरुर करे और सोशल मीडिया पर शेयर करे . ताकि आपको new पोस्ट की notification मिलती रहे धन्यवाद् .

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here