Doctor Kaise Bane – डॉक्टर कैसे बने? योग्यता, परीक्षा और सैलरी पूरी जानकारी

Doctor Kaise Bane : जिंदगी में अधिकतर लोग डॉक्टर बनना चाहते हैं। इसकी मुख्य वजह है कि उन्हें समाज की सेवा करने का मौका भी मिलता है साथ ही उन्हें बेहतरीन तनख्वाह भी मिलती है और उन्हें देश विदेश में नौकरी करने का मौका भी प्राप्त होता है।

इस प्रकार से अगर आप भी डॉक्टर बनने की इच्छा रखते हैं तो इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि “डॉक्टर कैसे बने” और “डॉक्टर बनने के लिए क्या करें?”

डॉक्टर कैसे बने? (Doctor Kaise Bane)

डॉक्टर बनने के लिए आपको 10वीं, 11वीं और 12वीं क्लास को पास करना होता है। हालांकि आपको 10वीं, 11वीं और 12वीं क्लास को साइंस के सब्जेक्ट के साथ पास करना होता है।

इसके पश्चात आपको संबंधित कोर्स में एडमिशन लेने के लिए एंट्रेंस एग्जाम पास करनी होती है। इसके बाद आपकी काउंसलिंग होती है और फिर आपको कोर्स में एडमिशन मिलता है। फिर आपको कोर्स को कंप्लीट करके डिग्री हासिल करनी होती है। इस प्रकार से आप डॉक्टर बनते हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

MBBS डॉक्टर कैसे बनें?

MBBS डॉक्टर बनने के लिए आपको 4 साल 6 महीने का समय एमबीबीएस की डिग्री हासिल करने के लिए देना होगा और 4 साल तथा 6 महीने में ही आपको 1 साल की इंटर्नशिप भी करनी होती है। आपको 4 साल 6 महीने में 9 सेमेस्टर की स्टडी करनी होती है।

MBBS डॉक्टर बनने के लिए प्रयास करें कि गवर्नमेंट कॉलेज में आपको एडमिशन मिले ताकि आपको कम फीस भरनी पड़े। अगर आपको प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन मिलता है तो आपको एमबीबीएस के पूरे कोर्स के लिए 20 लाख रुपए से लेकर के ₹50 लाख तक की फीस भरनी पड़ सकती है।

MBBS डॉक्टर बनने के लिए आपको 10वीं और 12वीं क्लास को फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी जैसे सब्जेक्ट के साथ पास करना है।

इसके बाद आपको मेडिकल कॉलेज में एडमिशन पाने के लिए एंट्रेंस एग्जाम में शामिल होना है और एंट्रेंस एग्जाम को पास करना है। एंट्रेंस एग्जाम के अंतर्गत आपको एम्स, एमएच सीईटी, आईएमपीटी जैसी एंट्रेंस एग्जाम देनी पड़ सकती है।

एंट्रेंस एग्जाम के बाद आपको मेडिकल कॉलेज में एडमिशन मिलता है। इसके बाद आप MBBS की डिग्री की पढ़ाई करके तथा डिग्री प्राप्त करके एमबीबीएस डॉक्टर बन सकते हैं

गवर्नमेंट डॉक्टर कैसे बनें?

गवर्नमेंट डॉक्टर बनने के लिए सर्वप्रथम दसवीं क्लास को साइंस के सब्जेक्ट में अच्छे अंकों के साथ पास करें। इसके बाद 11वीं क्लास में भी साइंस के सब्जेक्ट फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी ले तथा कम से कम 60% अंकों के साथ 11वीं क्लास को पास करें।

इसके बाद 12वीं क्लास में फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी जैसे सब्जेक्ट ले और कठिन परिश्रम करके 12वीं क्लास को भी कम से कम 60% से लेकर के 70% अंकों के साथ पास करें।

इसके बाद डॉक्टर बनने के लिए आप जिस प्रकार का कोर्स करना चाहते हैं उस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए संबंधित एंट्रेंस एग्जाम में शामिल हो और एंट्रेंस एग्जाम को पास करें और प्रयास करें कि एंट्रेंस एग्जाम में आपके अधिक से अधिक अंक आए ताकि आपको गवर्नमेंट कॉलेज में एडमिशन मिले।

एंट्रेंस एग्जाम में पास होने के बाद आपको कॉलेज का अलॉटमेंट होता है उसके बाद आपकी काउंसलिंग होती है। इसके बाद आवश्यक दस्तावेज जमा करने होते हैं। फिर आपको संबंधित कोर्स को निश्चित समय तक करना होता है।

कोर्स कंप्लीट करने के बाद आपको इंटर्नशिप करनी होती है। इसके बाद आप गवर्नमेंट डॉक्टर हेतु नौकरी के लिए आवेदन करते हैं। अगर सभी चरणों को पूरा करके आप नौकरी प्राप्त कर लेते हैं तो इस प्रकार आप गवर्नमेंट डॉक्टर बनने में कामयाब हो जाते है।

सर्जन डॉक्टर कैसे बनें?

सर्जन डॉक्टर बनने के लिए सर्वप्रथम मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया के द्वारा मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से आपको एमबीबीएस की डिग्री हासिल करनी है। इसके बाद आपको जनरल सर्जरी में मास्टर ऑफ सर्जरी की डिग्री को भी प्राप्त करना है।

इसके बाद आप सर्जन के तौर पर प्रैक्टिस स्टार्ट कर सकेंगे। अगर आप सर्जरी में स्पेशलिटी हासिल करना चाहते हैं तो आपको मास्टर ऑफ चिरूगिए की डिग्री लेनी होती है जो कि 3 साल का कोर्स होता है जिसमें आपको सर्जिकल प्रोसेस के बारे में अच्छी तरह से प्रैक्टिकल तौर पर समझाया, बताया जाता है।

हालांकि इसके लिए भी आपको बायोलॉजी, फिजिक्स और केमिस्ट्री सब्जेक्ट के साथ कम से कम 60% अंकों के साथ दसवीं और बारहवीं की एग्जाम को पास करना होता है। इसके साथ ही आपको नीट जैसी एंट्रेंस एग्जाम को भी पास करना होता है।

ग्रामीण डॉक्टर कैसे बनें?

ग्रामीण डॉक्टर बनने के लिए 11वीं और 12वीं क्लास को फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी के सब्जेक्ट के साथ कम से कम 60% अंकों के साथ पास करने के बाद आप बैचलर ऑफ साइंस का कोर्स कर सकते हैं। हालांकि याद रखें कि इस कोर्स को करने के बाद आप अपने नाम के आगे डॉक्टर नहीं लिख सकते हैं।

विद्यार्थियों को इस कोर्स को करने के लिए उम्र सीमा में छूट मिलती है साथ ही आरक्षण का फायदा भी मिलता है।

कोर्स में एडमिशन लेने के लिए विद्यार्थियों को एंट्रेंस एग्जाम को पास करना अनिवार्य होता है, साथ ही विद्यार्थियों को 6 महीने की इंटर्नशिप भी करनी होती है।

इस प्रकार से कोर्स पूरा करने के बाद विद्यार्थी भारत के ग्रामीण इलाकों में प्राइमरी हेल्थ सेंटर अथवा सब स्टेशन में तैनात हो जाते हैं।

इसके अलावा बता दे कि ग्रामीण डॉक्टर बनने के लिए डिप्लोमा कोर्स भी मौजूद है जिसे करने के पश्चात सामान्य तौर पर विद्यार्थियों को 6 महीने की इंटर्नशिप करनी होती है। इसके बाद वह ग्रामीण डॉक्टर के तौर पर वर्क स्टार्ट कर सकते हैं।

घर बैठे डॉक्टर कैसे बनें?

घर बैठे भले ही आप यूट्यूब वीडियो से दवाइयों की जानकारी प्राप्त करके या फिर किताबों को पढ़कर के छोटी मोटी ट्रीटमेंट कर सकते हैं परंतु आप डॉक्टर अपने आप को नहीं कहला सकते हैं, क्योंकि डॉक्टर बनने के लिए आपके पास डिग्री होनी चाहिए साथ ही आपके पास एक्सपीरियंस भी होना चाहिए।

घर बैठे अगर आप डॉक्टर बनने का प्रयास करते हैं तो आपकी गिनती झोलाछाप डॉक्टर में होती है। वास्तव में डॉक्टर बनने के लिए प्रैक्टिकल और थियोरेटिकल दोनों ही अभ्यास करने होते हैं।

इसलिए डॉक्टर से संबंधित जो कोर्स होते हैं वह 3 साल से लेकर के 4 साल की अवधि के होते हैं।

इस प्रकार से आप यह समझ सकते हैं कि घर बैठे डॉक्टर नहीं बना जा सकता है बल्कि इसके लिए 3 से 4 साल कठिन मेहनत करनी होती है और विभिन्न टेस्ट भी करने होते हैं साथ ही इंटर्नशिप भी करनी होती है।

MBBS डॉक्टर बनने के लिए आवेदन प्रक्रिया

MBBS डॉक्टर बनने के लिए आप नीचे दी हुई आवेदन प्रक्रिया को स्टेप बाय स्टेप फॉलो कर सकते हैं।

1. जब कॉलेज के द्वारा एमबीबीएस में एडमिशन हेतु नोटिफिकेशन जारी किया जाए तब आपको कॉलेज की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करना है।

2. आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद आपको एडमिशन के बारे में सारी जानकारी प्राप्त करनी है।

3. इसके पश्चात आपको ऑनलाइन एडमिशन फॉर्म भरना है जिसके अंतर्गत आपको अपनी सभी आवश्यक जानकारियों को दर्ज करना है।

4. आवश्यक जानकारियों को दर्ज करने के बाद आपको आवेदन फॉर्म को फाइनल सबमिट कर देना है।

5. इसके बाद आपको निश्चित दिन एंट्रेंस एग्जाम में शामिल होना है जिसका एडमिट कार्ड आपको कॉलेज की आधिकारिक वेबसाइट से प्राप्त हो जाएगा।

6. एंट्रेंस एग्जाम में शामिल होने के बाद आपको एंट्रेंस एग्जाम को अच्छे से अच्छे अंकों के साथ पास करना है।

7. एंट्रेंस एग्जाम को पास करने के पश्चात आपको काउंसलिंग के लिए बुलाया जाएगा और आपके दस्तावेज का वेरिफिकेशन किया जाएगा साथ ही आपसे कोर्स की फीस भरवाई जाएगी।

8. इसके बाद आपको कॉलेज में एडमिशन प्राप्त हो जाएगा।

अब आपको MBBS के कोर्स को टोटल 4 साल और 6 महीने तक करना होता है और तथा 1 साल की इंटर्नशिप करनी होती है जिसके बाद आप MBBS डॉक्टर बन जाते हैं।

विदेश में डॉक्टर के लिए अप्लाई कैसे करें?

सबसे पहले संबंधित विदेशी कॉलेज की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं। वेबसाइट पर जाने के बाद एप्लीकेशन फॉर्म पर क्लिक करके आवेदन फॉर्म भरें और आवश्यक दस्तावेज अपलोड कर दें। अब विदेशी यूनिवर्सिटी के द्वारा आवेदन फॉर्म को शॉर्टलिस्ट किया जाएगा।

अब आपको ईमेल आईडी अथवा फोन नंबर के द्वारा सूचित किया जाएगा। अब आपको एडमिशन फीस ऑनलाइन भरनी है। इसके बाद आपको विदेश में जाने हेतु आवश्यक लैंग्वेज के टेस्ट को देना है। टेस्ट देने के बाद आप विदेश जाकर के संबंधित यूनिवर्सिटी में डॉक्टर बनने का कोर्स कर सकते हैं।

डॉक्टर बनने के लिए आवश्यक दस्तावेज

आपको नीचे दिए हुए दस्तावेज की आवश्यकता डॉक्टर बनने के लिए पड़ेगी।

  • आधार कार्ड की फोटो कॉपी
  • पैन कार्ड की फोटो कॉपी
  • एजुकेशनल दस्तावेज
  • फोन नंबर
  • ईमेल आईडी
  • पासपोर्ट
  • आरक्षण सर्टिफिकेट
  • आय प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज की रंगीन फोटो
  • डिजिटल सिगनेचर

डॉक्टर बनने के लिए कौन सी परीक्षा देनी पड़ती है?

डॉक्टर की पोस्ट प्राप्त करने के लिए आपको निम्न एंट्रेंस एग्जाम से गुजरना पड़ सकता है।

  • NEET
  • Neet pg
  • Neet Mds
  • Aiapg et
  • Fmge
  • Dnb pdcet
  • Neet ss
  • Fet
  • Aims

डॉक्टर कोर्स नाम लिस्ट

नीचे उन कोर्स के नाम दिए गए हैं जिसे करके आप डॉक्टर की पोस्ट हासिल कर सकते हैं।

  • MBBS: Bachelor of Medicine, Bachelor of Surgery
  • BDS: Bachelor of Dental Surgery
  • BAMS: Bachelor of Ayurvedic Medicine and Surgery
  • BUMS: Bachelor of Unani Medicine and Surgery
  • BHMS: Bachelor of Homeopathy Medicine and Surgery
  • BYNS: Bachelor of Yoga and Naturopathy Sciences
  • B.V.Sc & AH: Bachelor of Veterinary Sciences and Animal Husbandry

डॉक्टर बनने के बाद सैलरी कितनी होती है?

यह डिपेंड करता है कि आपने डॉक्टर बनने के लिए कौन सा कोर्स किया है और आप गवर्नमेंट सेक्टर में नौकरी कर रहे हैं या फिर प्राइवेट सेक्टर में नौकरी कर रहे हैं। फिर भी सामान्य तौर पर देखा जाए तो डॉक्टर बनने के बाद आप हर महीने ₹28,000 से लेकर के ₹36,000 की सैलरी प्राप्त कर सकते हैं।

हालांकि अगर आपने एमबीबीएस जैसा कोर्स किया हुआ है और आपकी नौकरी गवर्नमेंट या फिर प्राइवेट सेक्टर में लगती है तो आपकी हर महीने की तनख्वाह ₹120,000 से लेकर के दो लाख रुपए तक हो सकती है। विदेशों में यही तनख्वाह हर महीने ₹500,000 की हो सकती है।

Doctor Kaise Bane [Video]

Doctor Kaise Bane

Doctor Kaise Bane से सम्बंधित प्रश्न उत्तर {FAQs}

डॉक्टर बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए?

डॉक्टर बनने के लिए फिजिक्स, केमिस्ट्री बायोलॉजी सब्जेक्ट लेना चाहिए।

डॉक्टर बनने के लिए कितना पैसा लगता है?

डॉक्टर बनने के लिए 10 लाख से 50 लाख पैसा लगता है।

क्या डॉक्टर बनना मुश्किल है?

हां, परंतु नामुमकिन नहीं है।

दुनिया की सबसे बड़ी डिग्री कौन सी है?

दुनिया की सबसे बड़ी डिग्री पीएचडी है?

डॉक्टर कौन लिख सकता है?

जिसने डॉक्टरी की पढ़ाई की हो वह डॉक्टर लिख सकता है।

क्या 12वीं के बाद डॉक्टर बन सकते हैं?

जी हां12वीं के बाद डॉक्टर का कोर्स करके डॉक्टर बन सकते है।

अंतिम शब्द

आशा करते हैं दोस्तों आप सभी को आज का यह आर्टिकल पसंद आया होगा। आज हमने “Doctor Kaise Bane” की पूरी जानकारी देने की कोशिश की है।

अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो हमारे ब्लॉग को जरूर सब्सक्राइब करें और इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले ताकि उन्हें भी यह जानकारी मिल सके धन्यवाद।

Doctor Kaise Bane – डॉक्टर कैसे बने? योग्यता, परीक्षा और सैलरी पूरी जानकारी

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap