गेहूं का वैज्ञानिक नाम क्या है? – Gehun Ka Scientific Name

Gehun Ka Scientific Name : नमस्कार दोस्तों एक बार फिर से आप सभी का हमारे ब्लॉग में स्वागत है आज हम बात करने वाले हैं गेहूं का वैज्ञानिक नाम क्या होता है?, गेहूं का इतिहास, गेहूं के फायदे और नुकसान क्या है ? तो हमारे साथ बने रहिए।

वैसे तो आप गेहूं के बारे में जानते ही होंगे गेहूं को भारत में बोए जाने वाली प्रमुख फसलों में गिनी जाती है। गेहूं का उपयोग आप सभी लोग करते ही होंगे।

इसका उपयोग रोटी बनाने में घरों में ज्यादा किया जाता है। लेकिन बहुत से लोगो को गेहूं का वैज्ञानिक नाम पता नहीं होता और अधिकतर ऐसे प्रश्न प्रतियोगी परीक्षा में पूछे जाते है। तो चलिए गेहूं(Wheat) के साइंटिफिक नाम और इससे सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी जान लेते है।

गेहूं का वैज्ञानिक नाम (Scientific Name) क्या है?

गेहूं के वैज्ञानिक नाम(Scientific Name) की बात की जाए तो कि गेहूं का वैज्ञानिक नाम ‘ट्रिटिकम एस्टीवम’ तथा इंग्लिश में ‘Triticum aestivum’ होता है।

इन्हे भी जाने

गेहूं का इतिहास (History Of Wheat In Hindi)

आज से लगभग 10,000 साल पहले तक इंसान खानाबदोश की जिंदगी व्यतीत कर रहा था। मनुष्य पहले न तो रहने के लिए एक जगह पर निर्भर रहता था और न ही खाने के लिए किसी एक भोजन पर।

संघर्ष पूर्वक जीवन जीने और अलग-अलग तरह के खाना खाने की वजह से उस समय इंसान शारीरिक रूप से काफी ताकतवर था ।

आज से लगभग 13,000 साल पहले इंसान ने गेहूं खाना शुरू किया तो उसके दिमाग में खेती करने का विचार आया। उन्होंने जमीन के कुछ हिस्से को साफ कर वहां पर गेहूं के दाने डालने शुरू कर दिए। और इन खेतों को जंगली जानवरों से बचाने के लिए खेतों के आसपास रहना शुरू कर दिया।

और इस तरह से लगभग 10,000 साल पहले इंसानी बस्तियां बसने की शुरुआत हुई। बस्तियां बसने के बाद जल्द ही इंसान अपने भोजन के लिए गेहूं के खेतों पर निर्भर हो गया। और पीढ़ी दर पीढ़ी इंसानों ने इसकी खेती को बढ़ाना चालू कर दिया।

गेहूं से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण बातें

  • गेहूं की उत्पत्ति सबसे पहले मध्य पूर्व के कुछ देशों में हुआ था।
  • गेहूं दुनिया की सबसे ज्यादा उगाई जाने वाली फसल है। लेकिन प्रोडक्शन के मामले में मक्का पहले आता है।
  • अंटार्कटिका को छोड़कर सारे महाद्वीप में गेहूं उगाया जाता है।
  • गेहूं की दो केटेगरी पाई जाती है एक सर्दी के मौसम में और दूसरी गर्मी के मौसम पर उगाए जाते हैं।
  • गेहूं की फसल को तैयार होने में लगभग 4 महीने का समय लगता है।
  • किस्मों के आधार पर गेहूं का पौधा 2 से 4 फीट तक लंबा होता है।
  • गेहूं का उत्पादन सबसे ज्यादा एशिया में होता है और इसके अलावा यूरोप और अमेरिका में भी बहुत ज्यादा उत्पादन होता है।

गेहूं के फायदे (Advantages Of Wheat In Hindi)

तो चलिए जान लेते हैं गेहूं के रोटी के फायदे क्या है ?

हृदय के लिए – स्वास्थ्य हृदय के लिए गेहूं बहुत ही उपयोगी है। मानव शरीर के लिए जरूरी तत्व जैसे कैलशियम, जिंक और भाई बार गेहूं में भरपूर मात्रा में होते हैं इसलिए दिल से संबंधित रोगों में गेहूं बहुत ही फायदा करता है।

पाचन तंत्र – यदि आपको पेट संबंधित परेशानियां जैसे पेट दर्द, गैस जैसी समस्या होती है तो गेहूं की रोटी सेवन करने से गेहूं में मौजूद फाइबर खाना को पचाने में आसान बनाते हैं जिससे पाचन तंत्र मजबूत होता है।

थायराइड में – गेहूं के प्रतिदिन सेवन से हाइपर थायराइड और हाइपो थायराइड जैसे समस्या से बचाता है।

हड्डियों को मजबूत – हड्डियो की मजबूती के लिए गेहूं में कैल्शियम अधिक मात्रा में रहता है जिससे हड्डियों, जोड़ों में दर्द,, सूजन की परेशानी से जूझ रहे लोगों के लिए गेहूं एक उचित आहार है।

किडनी स्टोन – उम्र के बढ़ने के साथ-साथ किडनी स्टोन जैसे प्रॉब्लम एक आम समस्या है गेहूं में इस स्टोन को गलाने की अद्भुत क्षमता होती है।

एनीमिया के रोगियों के लिए – गेहूं में आयरन होता है जिससे हर लाल रक्त कोशिकाओं की मात्रा को बढ़ाता है। यदि आप भोजन में गेहूं को शामिल करते हैं तो शरीर में रक्त कणिकाओं की पूर्ति हो जाती है। और एनीमिया जैसे रोग से बचाव होता है।

गेहूं के नुकसान (Disadvantages Of Wheat In Hindi)

गेहूं को नियमित मात्रा में खाने से उसके फायदे तो मिलते हैं लेकिन बहुत अधिक मात्रा में खाने से इसके नुकसान भी है।

बहुत अधिक मात्रा में गेहूं खाने से पेट में बहुत ज्यादा गैस और कब्ज की समस्या देखने को मिलती है।

गेहूं से संबंधित महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर (FAQs)

गेहूं का कुल कौन सा है?

गेहूं का कुल Poaceae है।

सबसे अच्छा गेहूं का बीज कौन सा है?

सबसे अच्छा गेहूं का बीज HI-8663 है।

भारत में सबसे ज्यादा गेहूं का उत्पादन कहां होता है ?

भारत में सबसे ज्यादा गेहूं का उत्पादन उत्तर प्रदेश राज्य में होता है।

गेहूं उत्पादन का प्रमुख क्षेत्र कौन – कौन सा है?

गेहूं उत्पादन का प्रमुख क्षेत्र उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्यप्रदेश, गुजरात, हरियाणा, पंजाब और बिहार आदि है।

गेहूं की फसल कब बोई जाती है?

अक्टूबर और नवंबर का महीना गेहूं की खेती करने के लिए सबसे उपयुक्त समय माना जाता है।

गेहूं की कटाई कौन से महीने में होती है?

अधिकतर गेहूं की कटाई मार्च और अप्रैल महीने में होती हैं।

इन्हे जरूर पढ़े

आज हमने क्या जाना है?

आज हमने जाना गेहूं का वैज्ञानिक नाम क्या होता है?, गेहूं का इतिहास, गेहूं से संबंधित महत्वपूर्ण बातें, गेहूं खाने के फायदे और नुकसान क्या है?

उम्मीद करते हैं दोस्तों आप सभी को हमारे द्वारा दी गई जानकारी ‘गेहूं का वैज्ञानिक नाम‘ पसंद आई होगी इसी तरह के महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब करें और ज्यादा से ज्यादा अपने दोस्तों के साथ शेयर करें। धन्यवाद

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap