Polytechnic Kya Hai – पॉलिटेक्निक कैसे करें? पूरी जानकारी

Polytechnic Kya Hai : प्रतियोगिता के इस जमाने में नौकरी हासिल करने के लिए लोगों के पास बेसिक क्वालिफिकेशन के साथ ही साथ प्रोफेशनल डिग्री होना बहुत ही आवश्यक होती है। हालांकि वर्तमान के समय में विभिन्न एजुकेशन इंस्टिट्यूट के द्वारा अलग-अलग प्रकार के डिप्लोमा और डिग्री कोर्स करवाए जा रहे हैं।

ऐसे में विद्यार्थी चाहे तो पॉलिटेक्निक का कोर्स करके अपने करियर को अच्छे से स्थापित कर सकता है, क्योंकि पॉलिटेक्निक का कोर्स आसानी से 10वीं और 12वीं क्लास पास करने के बाद किया जा सकता है, साथ ही ग्रेजुएट लोग भी इसे कर सकते हैं। इस प्रकार से अगर आपका इंटरेस्ट पॉलिटेक्निक करने में है तो इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि “पॉलिटेक्निक क्या है” और “पॉलिटेक्निक कैसे करें?”

पॉलिटेक्निक क्या है? (Polytechnic Kya Hai)

पॉलिटेक्निक एक ऐसा इंस्टिट्यूट होता है जहां पर विद्यार्थियों को टेक्निकल फील्ड में 3 साल का डिप्लोमा कोर्स करवाया जाता है। पॉलिटेक्निक में एडमिशन लेने के लिए स्टेट लेवल पर एंट्रेंस एग्जाम को आयोजित करवाया जाता है, जिसमें सफलता प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को रैंक मिलती है और रैंक के आधार पर कॉलेज में एडमिशन दिया जाता है।

पॉलिटेक्निक में अलग-अलग प्रकार के कोर्स होते हैं जिन्हें करने के लिए 10वीं पास से लेकर के ग्रेजुएशन लेवल तक की योग्यता मांगी जाती है। विद्यार्थी अपनी योग्यता के हिसाब से एडमिशन प्राप्त कर सकता है। अधिकतर पॉलिटेक्निक कोर्स 3 साल के होते हैं।

Polytechnic कैसे करें?

पॉलिटेक्निक में एडमिशन लेने के लिए आपको कॉमन एंट्रेंस टेस्ट में शामिल होना पड़ता है और इसे पास करने की आवश्यकता होती है। अगर आप कॉमन एंट्रेंस टेस्ट को पास करने में सफलता हासिल कर लेते हैं तो उसके पश्चात ही आपको पॉलिटेक्निक कोर्स में एडमिशन हासिल होता है।

 हालांकि कुछ ऐसे भी प्राइवेट इंस्टिट्यूट और कॉलेज है जहां पर आप को यह टेस्ट नहीं देना होता है परंतु गवर्नमेंट कॉलेज में यह टेस्ट देना होता है।

Polytechnic करने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए?

पॉलिटेक्निक में अलग-अलग प्रकार के कोर्स होते हैं और उन अलग-अलग प्रकार के कोर्स को करने के लिए अलग-अलग प्रकार की योग्यताएं मांगी जाती है।

पॉलिटेक्निक में 10 पास लोगों के लिए, 12वीं पास और ग्रेजुएट लोगों के लिए भी कोर्स है। विद्यार्थी अपनी पढ़ाई के हिसाब से कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं।

Polytechnic कोर्स हेतु दस्तावेज

  • आधार कार्ड की फोटोकॉपी
  • फोन नंबर
  • ईमेल आईडी
  • एजुकेशन सर्टिफिकेट
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र

Polytechnic करने के लिए कौन सा परीक्षा देने पड़ सकता है?

पॉलिटेक्निक कोर्स करने के लिए आपको कॉमन एंट्रेंस एग्जाम में शामिल होना पड़ सकता है क्योंकि यही वह सामान्य परीक्षा है जिसका आयोजन पॉलिटेक्निक के कोर्स में एडमिशन देने के लिए करवाया जाता है।

एंट्रेंस एग्जाम को पास करने वाले विद्यार्थियों को ही आगे की प्रक्रिया में शामिल किया जाता है और जो विद्यार्थी एंट्रेंस एग्जाम पास नहीं कर पाते हैं उन्हें एडमिशन नहीं दिया जाता है।

परंतु यह भी ध्यान रखें कि कुछ कॉलेज ऐसे भी है जो डायरेक्ट पॉलिटेक्निक के कोर्स में एडमिशन देते हैं। अधिकतर ऐसे कॉलेज प्राइवेट कॉलेज होते हैं।

Polytechnic में कितने प्रकार के कोर्स होते हैं?

पॉलिटेक्निक में विभिन्न प्रकार के कोर्स होते हैं जिन्हें करने के लिए अलग-अलग योग्यताएं मांगी जाती है। नीचे हमने पॉलिटेक्निक के प्रमुख कोर्स की लिस्ट दी है, जिनमें आप एडमिशन प्राप्त कर सकते हैं।

हालांकि याद रखें कि नीचे दिए हुए किसी भी कोर्स में एडमिशन लेने से पहले आप यह पता कर ले कि उस कोर्स को करने के लिए कौन सी एजुकेशन क्वालिफिकेशन मांगी जा रही है और उसके पश्चात ही आगे की प्रक्रिया करें।

1. मकैनिकल इंजिनियरिंग

2. सिविल इंजिनियरिंग

3. ऑटोमोबाइल इंजिनियरिंग

4. पैकेजिंग टेक्नॉलजी

5. इलेक्ट्रिकल ऐंड इलेक्ट्रॉनिक्स इंजिनियरिंग

6. इलेक्ट्रॉनिक्स ऐंड कम्यूनिकेशन इंजिनियरिंग

7. अप्लाइड इलेक्ट्रॉनिक्स ऐंड इंस्ट्रूमेंटेशन

8. कंप्यूटर इंजिनियरिंग, इन्फर्मेशन टेक्नॉलजी

9. माइनिंग इंजिनियरिंग, मेटलॉर्जिकल इंजिनियरिंग,

10. टेक्सटाइल टेक्नॉलजी, केमिकल इंजिनियरिंग,

11. केमिकल इंजिनियरिंग इन प्लास्टिक ऐंड पॉलिमर्स,

12. पेट्रोकेमिकल्स इंजिनियरिंग,

13. लेटर टेक्नॉलजी,

14. प्रिटिंग टेक्नॉलजी,

15. फुटवियर टेक्नॉलजी,

16. आर्किटेक्चर कोर्सेज,

17. एयरक्राफ्ट मेंटिनेंस इंजिनियरिंग,

18. मास कम्यूनिकेशन, इंटीरियर डिजाइनिंग,

19. होटल मैनेजमेंट,

20. कमर्शल ऐंड फाइन आर्ट,

21. मास कम्यूनिकेशन,

22. इंटीरियर डिजाइन,

23. ऑफिस मैनेजमेंट ऐंड कंप्यूटर ऐप्लिकेशन

Polytechnic करने में कितना फीस लगता है?

पॉलिटेक्निक के कोर्स की फीस गवर्नमेंट कॉलेज में अलग होती है और प्राइवेट कॉलेज में अलग होती है। अंदाज के तौर पर पॉलिटेक्निक कोर्स की फीस गवर्नमेंट कॉलेज में सालाना तौर पर ₹7000 से लेकर के ₹8000 के आसपास में होती है।

 वहीं यही फीस गवर्नमेंट कॉलेज में सालाना तौर पर ₹10000 से लेकर के 16000 के बीच में होती है। इसके अलावा अलग-अलग राज्यों के पॉलिटेक्निक कॉलेज की फीस में भिन्नता हो सकती है।

पॉलिटेक्निक का सबसे अच्छा कॉलेज कौन सा है?

हमारे देश में बहुत सारे कॉलेज और इंस्टीट्यूट है जो पॉलिटेक्निक में डिप्लोमा का कोर्स करवाते हैं परंतु उनमें से कुछ प्रमुख और बेस्ट पॉलिटेक्निक कॉलेज की लिस्ट हमने नीचे दी है, जिनमें आप एडमिशन प्राप्त कर सकते हैं।

  • गवर्नमेंट पॉलिटेक्निक, मुंबई
  • एस एच जोंधले पॉलिटेक्निक, ठाणे
  • वी.पी.एम. पॉलिटेक्निक, ठाणे
  • विवेकानंद एजुकेशन सोसाइटी पॉलिटेक्निक, मुंबई
  • आदेश पॉलिटेक्निक कॉलेज, मुक्तसर
  • अंजुमन पॉलिटेक्निक, नागपुर
  • एग्नेल पॉलिटेक्निक, नवी मुंबई
  • छोटू राम पॉलिटेक्निक, रोहतक
  • अधिपरशक्ति पॉलिटेक्निक कॉलेज, कांचीपुरम
  • एमईआई पॉलिटेक्निक, बंगलुरु

Polytechnic करने के बाद सैलरी कितनी मिलती है?

जब किसी विद्यार्थी के द्वारा पॉलिटेक्निक का कोर्स कर लिया जाता है तब स्टार्टिंग में उसे हर महीने ₹10000 से लेकर के ₹16000 की तनख्वाह मिलती है। यह तनख्वाह छोटे पद की होती है।

 अगर किसी अभ्यर्थी को किसी कंपनी में बड़ा पद हासिल हुआ है तो उसकी शुरुआती तनख्वाह हर महीने ₹18000 से लेकर के ₹25000 के आस पास में होती है।

अगर पॉलिटेक्निक का कोर्स करने के दरमियान आप अच्छी परफॉर्मेंस देते हैं तो कैंपस इंटरव्यू के दरमियान ही आपको अच्छी सैलरी पर नौकरी प्राप्त हो सकती है, क्योंकि केंपस इंटरव्यू के दरमियान विभिन्न कंपनियां वर्कर के लिए आती हैं।

इसके अलावा अगर काम करते-करते आपका अनुभव अच्छा हो जाता है तो आप जिस कंपनी में काम करते हैं उस कंपनी के द्वारा आपकी सैलरी में भी बढ़ोतरी की जाती है।

 इसके अलावा अगर आपको किसी विदेश की कंपनी में नौकरी हासिल होती है तो आप विदेशी कंपनी में काम करने के दरमियान भारतीय रुपए में हर महीने ₹40000 से लेकर के ₹55000 तक कमा सकते हैं।

Polytechnic करने के बाद कौन-कौन सी नौकरी मिलती है?

पॉलिटेक्निक करने के बाद आपने जिस विषय में कोर्स किया हुआ होता है आपको उसी फील्ड के अंतर्गत नौकरी प्राप्त होती है। मान लीजिए कि आपने केमिकल इंजीनियरिंग में पॉलिटेक्निक का कोर्स किया हुआ है तो आपको केमिकल का निर्माण करने वाली कंपनी में नौकरी प्राप्त हो सकती है।

इसके अलावा अगर आपने पेट्रोकेमिकल्स इंजीनियरिंग की हुई है तो आप को विभिन्न इंडियन रिफाइनरी में नौकरी प्राप्त हो सकती है।

 अगर आपने फुटवियर टेक्नोलॉजी का कोर्स किया हुआ है तो आपको फुटवियर बनाने वाली कंपनी में नौकरी प्राप्त हो सकती है साथ ही अगर आपने होटल मैनेजमेंट का कोर्स किया है तो आपको होटल और रेस्टोरेंट में नौकरी मिल सकती है।

पॉलिटेक्निक करने के फायदे क्या है?

पॉलिटेक्निक करने के फायदे निम्नानुसार है।

  • पॉलिटेक्निक का कोर्स सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद विद्यार्थियों को टेक्निकल सर्टिफिकेट हासिल होता है जो उनके कैरियर में उनके काफी काम आता है।
  • तुरंत नौकरी पाने के लिए पॉलिटेक्निक बहुत ही बेहतरीन ऑप्शन होता है।
  • पॉलिटेक्निक का कोर्स करने के बाद आपको जूनियर इंजीनियर की पोस्ट प्राप्त हो सकती है। इसके अलावा आप विभिन्न प्रकार की गवर्नमेंट नौकरी जैसे कि लोको पायलट, टेक्निकल असिस्टेंट के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं।
  • अगर आप पॉलिटेक्निक कर लेते हैं तो इसे इंटरमीडिएट के बराबर ही मान्यता दी जाती है।
  • अगर आप सही प्रकार से पॉलिटेक्निक में डिप्लोमा कर लेते हैं तो आप 12वीं पास विद्यार्थी से ज्यादा ज्ञान रखने लगते हैं।

पॉलिटेक्निक करने के नुकसान क्या है?

  • जिन गवर्नमेंट नौकरी के लिए 12वीं कक्षा को पास कर चुके विद्यार्थी आवेदन कर सकते हैं उसी गवर्नमेंट नौकरी को पॉलिटेक्निक कोर्स कर चुके विद्यार्थी भी प्राप्त करने के लिए आवेदन कर सकते हैं।

पॉलिटेक्निक करने का कोई भी नुकसान नहीं है परंतु अगर आप एक महत्वकांक्षी विद्यार्थी हैं। तो आप अपनी इच्छा के अनुसार दसवीं क्लास को पास करने के बाद या फिर 12वीं क्लास को पास करने के बाद अपने पसंदीदा कोर्स को कर सकते हैं।

सामान्य तौर पर ऐसे विद्यार्थी पॉलिटेक्निक करते हैं जो जल्दी से नौकरी प्राप्त करने की चाह रखते हैं क्योंकि इसके अंदर उन्हें टेक्निकल जानकारी प्राप्त होती है साथ ही उनके कौशल में बढ़ोतरी होती है।

परंतु याद रखें कि पॉलिटेक्निक करने के लिए अधिकतर गवर्नमेंट कॉलेज में एडमिशन ले। प्राइवेट कॉलेज में आपको ज्यादा फीस करनी पड़ सकती है जिससे आपके ऊपर आर्थिक बोझ आ सकता है।

Polytechnic से सम्बंधित प्रश्न उत्तर {FAQs}

पॉलिटेक्निक कितने साल का है?

अधिकतर पॉलिटेक्निक कोर्स 3 साल के होते हैं।

पॉलिटेक्निक में सबसे अच्छा कोर्स कौन सा है?

डिप्लोमा इन कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग,डिप्लोमा इन सिविल इंजीनियरिंग,डिप्लोमा इन इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग,डिप्लोमा इन मैकेनिकल इंजीनियरिंग,डिप्लोमा इन इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग,डिप्लोमा इन ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग,डिप्लोमा इन बायोटेक्नोलॉजी।

क्या मैं 12वीं के बाद पॉलिटेक्निक कर सकता हूं?

जी हां, 12वीं क्लास पास करने के बाद भी आप पॉलिटेक्निक कर सकते हैं, क्योंकि 12वीं क्लास पास कर चुके विद्यार्थियों के लिए भी पॉलिटेक्निक में बहुत सारे कोर्स है।

क्या आर्ट्स वाले पॉलिटेक्निक कर सकते हैं?

जी हां कला संकाय से पढ़ाई करने वाले विद्यार्थी भी पॉलिटेक्निक का कोर्स कर सकते हैं।

पॉलिटेक्निक की सबसे अच्छी ब्रांच कौन सी है?

डिप्लोमा इन कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग,डिप्लोमा इन सिविल इंजीनियरिंग,डिप्लोमा इन मैकेनिकल इंजीनियरिंग, डिप्लोमा इन इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, डिप्लोमा इन ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग, डिप्लोमा इन एयरोस्पेस इंजीनियरिंग, डिप्लोमा इन मेटालर्जी इंजीनियरिंग।

अंतिम शब्द

आशा करते हैं दोस्तों आप सभी को हमारा आज का यह लेख पसंद आया होगा आज के इस लेख में हमने Polytechnic Kya Hai – पॉलिटेक्निक कैसे करें? के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश की है।

अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें और हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब करना ना भूले ताकि आपको नई पोस्ट की जानकारी मिल सके।

Polytechnic Kya Hai - पॉलिटेक्निक कैसे करें? पूरी जानकारी

I am Tamesh Sonkar, Founder of desifunnel.com website. I am 21 years old now & final year student of B Pharma. I have a passion for reading as well as writing. I try to learn and teach something new every day.

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap